पहाड़ी ब्लॉग

dear swani nathuli by hardev negi

Dear स्वांणी नथुली

Dear स्वांणी नथुली जब पैरदि त्वेथैं ब्यटुली. अहा! कन्न हलकदि स्या नकुण्यों मा। जब जांदी बेटी ब्वारी अर माँ जी थौला म्याल्या मा……………. या नथुली… Read More »Dear स्वांणी नथुली

पहाड़ी रिक्रूटर (नौकरी लगाने वाला रिश्तेदार)

  वैंसे तो रिक्रूटर ज्यादातर एच आर (HR Recruiter) ही होते है जो अपनी विशेषज्ञता के आधार पर उम्मीदवार का चयन करते हैं, पर इन… Read More »पहाड़ी रिक्रूटर (नौकरी लगाने वाला रिश्तेदार)

गडुलि “माँ मि भि ल्यांदू”

ब्याखुनि का घाम गाड पार पहुँचने लग गया, उधर मां ने अपनी सिराणीं दाथुलि हाथ में लेकर दो गडुलि घास बांजा की काटने के लिए… Read More »गडुलि “माँ मि भि ल्यांदू”

जी हाँ आज “ईगास बग्वाल” है,

हम पहाडी गढ़वालियों का महत्वपूर्ण त्यौहार ,,कुछ यादें फिर पहाड़ की ताजा हो जाती हैं,,और जब बात त्योहारों की हो तो अपने बचपन में माँ… Read More »जी हाँ आज “ईगास बग्वाल” है,