Blogs

जनहित में जारी

देहरादून, दिल्ली, हल्द्वानी, और हरिद्वार जैंसे शहरों में रहने वाले, पहाड़ी कुबुद्धीजीवी पत्रकार, गायक, व गीतकार वर्ग कृपया ये बताओ कि पहाड़ की बेटी-ब्वारियों की… Read More »जनहित में जारी

उन दिनों श्रीनगर गढ़वाल

श्रीनगर गढ़वाल की थाती प्राचीन समय से ही इतिहास की विभिन्न घटनाओं से विख्यात रही है. माँ धारी देवी के चरणों व कमलेश्वर माहदेव की… Read More »उन दिनों श्रीनगर गढ़वाल

कुछ एैंसी है गुप्तकाशी

सूरज की पहली किरणों संग, नयन भिगोते जहाँ के वासी. नीस जिसके बहती मंन्दाकिनी, वही नगरी है गुप्तकाशी. भोले बाबा के जयकारों से, गूंज उठती… Read More »कुछ एैंसी है गुप्तकाशी

पंथ्या दादा

सतरहवीं शताब्दी के दौर में जहाँ भारत वर्ष के अधिकांश भागों में अंग्रेजों की हुकूमत का स्वामित्व स्थापित हो चुका था वहीं उत्तराखंड के पहाड़ी… Read More »पंथ्या दादा