Achyutam Keshavam “अच्युतम केशवम्”

Achyutam Keshavam “अच्युतम केशवम्”

पिछले दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हुआ, जिसमें एक माँ ने अपने बच्चे को “Achyutam Keshavam अच्युतम केशवम्” भजन को अच्छे से सिखाया. और लोगों ने भी खूब सराहा, माँ की तारीफो के पुल बांध दिये, और बच्चों को सोशल मीडिया से दूर रहने तक का लोगो ने नतीजा बताया. अच्युतम केशवम् जैंसे संस्कृति भजन आज की पीढ़ी में जहां हर कोई वश्यक मानस भी ढंग से नहीं गा पाता वहीं उस बच्चे ने महज एक छोटी अल्प आयु में सीख लिया, ये अपने आप में रोचक भी है क्योंकि संस्कृति दुनिया के सबसे कठिन भाषा है.

………………..!………………हर माँ अपने बच्चे को कुछ ना कुछ सिखाने पर जोर देती है और वो चाहती भी है कि उसका बच्चा भी कुछ एैंसा करे. अब रोचक बात ये है कि मेरे बगल वाले फ्लैट में दूर बिहार का एक परिवार रहता है और उनका भि बच्चा लगभग दो ढाई साल का है, अब जबसे माँ ने अच्युतम केशवम् वाला वीडियो देखा है तो तब से वो भी प्रेरित हो गई हैं, और पिच्छले एक दो हफ्तों से रोज शाम को मोबाईल फोन पर “अच्युतम केशवम्” भजन बच्चे को सुनाती है पर बच्चा पहले से ही डोरेमोन का आदी हो चुका है, पर माँ भी अपनी जिद्द पर अड़ी है कि उसका बच्चा भी ये भजन सुनाये, रोज भजन का पहला मुखड़ा माँ गाती है और आखिरी बच्चे को गाने को कहती है, पर बच्चा कार्टून लगाने की जिद्द पर रहता है………!…….

पर यहां बच्चे के सीखने से ज़्यादा भारतीय माँ का संयम देखना जरूरी है कि आखिर कब तक माँ अपने सयम पर टिकी रहती है और बच्चा कार्टून की जगह “अच्युतम केशवम्” भजन गाये. पर आखिर एक दिन शाम को हुआ वही जो एक भारतीय माँ करती है, माँ ने भजन का पहला मुखड़ा गया और अगला बच्चे को गाने को कहा,
जैंसे ही माँ ने “अच्युतम केशवम् कृष्ण दामोदरम्, रामा नारायणम् …….तक गाया और बच्चे को बोला आगे बच्चा चुप रहा माँ ने दो तीन बार प्रयास किया पर बच्चा कुछ नहीं बोला. फिर क्या था.

माँ ने कहा अच्युतम केशवम् कृष्ण दामोदरम् उसके बाद शुरु हुआ बच्चे का कुटा कुटम, बच्चे के पापा ने कहा क्यों मार रही हो तो फिर पापा का भी शुरु हुआ “कुटा कुटम” पर उसकी बड़ी दीदी ने पूरा भजन सुनाया जो कि पांच साल की है.

अच्युतम केशवम् कृष्ण दामोदरम्, माँ करे बच्चे का कुटा कुटम्.”

लेख हरदेव नेगी

2 thoughts on “Achyutam Keshavam “अच्युतम केशवम्””

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *